Samachar Nama
×

गुप्त नवरात्रि के के पांचवें दिन कैसे करें मां छिन्नमस्ता की पूजा, नोट करें संपूर्ण विधि

www.samacharnama.com

ज्योतिष न्यूज़ डेस्क: हिंदू पंचांग के अनुसार आषाढ़ माह की गुप्त नवरात्रि का आरंभ 6 जुलाई से हो चुका है और इसका समापन 15 जुलाई को हो जाएगा। आज यानी 10 जुलाई को गुप्त नवरात्रि का पांचवा दिन है जो कि मां दिन्नमस्ता को समर्पित है, धार्मिक मान्यताओं के अनुसार देवी छिन्नमस्ता को भगवती त्रिपुर सुंदरी का ही रौद्र स्वरूप माना गया है

gupt navratri 2024 maa chhinnamasta puja vidhi

इस दिन इनकी पूजा अर्चना की जाती है मान्यता है कि मां छिन्नमस्ता की पूजा अर्चना करने से मनुष्य को समाज में खूब मान सम्मान और प्रतिष्ठा की प्राप्ति होती है साथ ही सुख समृद्धि का भी वरदान मिलता है इसके अलावा इनकी पूजा करने से अकाल मृत्यु का भय भी समाप्त हो जाता है तो आज हम आपको अपने इस लेख द्वारा छिन्नमस्ता देवी की पूजा विधि के बारे में बता रहे हैं तो आइए जानते हैं। 

gupt navratri 2024 maa chhinnamasta puja vidhi 

गुप्त नवरात्रि पर ऐसे करें देवी छिन्नमस्ता की पूजा—
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार गुप्त नवरात्रि के शुभ दिन पर मां छिन्नमस्ता की पूजा करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है इस दिन सुबह उठकर स्नान आदि के बाद साफ वस्त्रों को धारण करें फिर संकल्प लेकर एक वेदी पर मां छिन्नमस्ता की प्रतिमा स्थापित कर देवी को गंगाजल, पंचामृत और साफ जल से स्नान करवाने के बाद माता को कुमकुम और सिंदूर से तिलक लगाएं।

gupt navratri 2024 maa chhinnamasta puja vidhi

माता को गुड़हल के पुष्प अर्पित करें और इसकी माल भी पहनाएं। इसके बाद लौंग, इलायची, बतासा, नारियल, मिठाई और फल का भोग लगाएं। पूजा के समापन के बाद देवी की आरती करें फिर वैदिक मंत्रों का जाप कर ध्यान करें साथ ही पूजा के दौरान होने वाली गलतियों के लिए मां छिन्नमस्ता से क्षमा भी जरूर मांग लें।  

gupt navratri 2024 maa chhinnamasta puja vidhi 

Share this story