×

इस साल दशहरे पर बन रहा शुभ संयोग, जानिए​ तिथि, महत्व और मुहूर्त

Dussehra 2021 date importance shubh yog is being made on dussehra festival know the muhurat of vijayadashami

ज्योतिष न्यूज़ डेस्क: हिंदू धर्म में पर्व त्योहारों को खास माना जाता हैं वही अश्विन मास की दशमी तिथि को पूरे देश में दशहरा या विजयादशमी का पर्व बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया जाता हैं दुर्गा पूजा की दशमी तिथि को मनाया जाने वाले दशहरा बुराई पर अच्छाई और असत्य पर सत्य की विजय का प्रतीक हैं

Dussehra 2021 date importance shubh yog is being made on dussehra festival know the muhurat of vijayadashami

दशहरा या विजयादशमी के दिन बिना शुभ मुहूर्त भी शुभ कार्यों को किया जा सकता हैं ज्योतिष अनुसार इस दिन किए गए नए कार्यों में सफलता मिलती हैं विजयादशमी के दिन श्रीराम, मां दुर्गा, श्री गणेश और हनुमान जी की पूजा करके परिवार के मंगल की कामना की जाती हैं मान्यता है कि दशहरा के दिन रामायण पाठ, सुंदरकांड, श्रीराम रक्षा स्त्रोत करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं, तो आज हम आपको इस पर्व के बारे में जानकारी प्रदान कर रहे हैं तो आइए जानते हैं। 

Dussehra 2021 date importance shubh yog is being made on dussehra festival know the muhurat of vijayadashami

हिंदू धर्म पंचांग के मुताबिक इस साल दशहरा का त्योहार 15 अक्टूबर शुक्रवार को मनाया जाएगा। इस दिन सूर्य कन्या राशि और चंद्रमा मकर राशि में होगा। इस दिन सुबह 9 बजकर 16 मिनट तक श्रवण नक्षत्र रहेगा। जोकि बहुत शुभ माना जाता है इसके बाद घनिष्ठा नक्षत्र रहेगा। विजय मुहूर्त दोपहर 1 बजकर 52 से 2 बजकर 35 मिनट तक रहेगा। 

Dussehra 2021 date importance shubh yog is being made on dussehra festival know the muhurat of vijayadashami

जानिए दशहरा पूजा का महत्व—
दशहरा के दिन मां दुर्गा और भगवान श्रीराम की पूजा की जाती हैं मां दुर्गा जहां शक्ति की प्रतीक हैं वही भगवान श्रीराम मर्यादा, धर्म और आदर्श व्यक्तित्व के प्रतीक हैं जीवन में शक्ति, मर्यादा, धर्म और आदर्श का विशेष महत्व हैं जिस व्यक्ति के अंदर ये गुण हैं वह सफलता को प्राप्त करता हैं। 

Dussehra 2021 date importance shubh yog is being made on dussehra festival know the muhurat of vijayadashami

दशहरा सर्वसिद्धिदायक तिथि मानी जाती हैं इसलिए इस दिन सभी शुभ कार्य फलकारी माने जाते हैं ज्योतिष अनुसार दशहरा के दिन बच्चों का अक्षर लेखन, घर या दुकान का निर्माण, गृह प्रवेश, मुंडन, नामकरण, अन्नप्राशन, कर्ण छेदन, यज्ञोपवीत संस्कार और भूमि पूजन आदि कार्य शुभ माने गए हैं विजयादशमी के दिन विवाह संस्कार को निषेध माना गया हैं दशहरा का त्योहार बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक हैं। 

Dussehra 2021 date importance shubh yog is being made on dussehra festival know the muhurat of vijayadashami

Share this story