Samachar Nama
×

दुर्गा पूजा 2022:- दुर्गा पूजा पर महिलाएं सफेद और लाल रंग की साड़ी क्यों पहनती हैं?

स अ

मनुष्य के जीवन में और हिंदू धर्म में रंगों का बहुत विशेष महत्व है; पूजा में भी रंगों को बहुत महत्व दिया जाता है। ज्यादातर महिलाएं लाल बॉर्डर वाली सफेद और क्रीम रंग की साड़ी में नजर आती हैं जो देखने में खूबसूरत लगती है। क्या आप जानते हैं बंगाली महिलाएं इस रंग की साड़ी ही क्यों चुनती हैं? आज के इस आर्टिकल में हम आपको इसी के बारे में बताने जा रहे हैं, आइए जानते हैं।

खास कपड़े से बनी साड़ी

दुर्गा पूजा पर बंगाली महिलाओं द्वारा पहनी जाने वाली साड़ी को जामदानी कहा जाता है। जामदानी साड़ी एक ऐसी साड़ी है जिसे खास हाथों से बुनकर बनाया जाता है। इस साड़ी का फैब्रिक कॉटन है। यह पहनने में बहुत हल्का होता है।

बंगाल की परंपरा

आपको बता दें कि बंगाल में सफेद और लाल को पारंपरिक रंग माना जाता है। इसलिए विवाहित महिलाएं इस साड़ी को नवरात्रि के समय पहनती हैं।

मेकअप कैसे करें

अगर आपने सफेद और लाल रंग की साड़ी पहनी है तो उसके साथ केवल लाल रंग की लिपस्टिक लगाएं, या आप चाहें तो लिपस्टिक नहीं लगा सकते, यह आपकी मर्जी है। इस वस्त्र के साथ लाल बिंदी पहनें। यह आपके लुक को पूरा करेगा।

साड़ी बांग्ला स्टाइल में पहनी थी

बंगाली लुक के लिए तैयार होने के लिए सबसे पहले आपको अपनी साड़ी को ट्रेडिशनल बंगाली स्टाइल में पहननी होगी, तभी आप पूरी तरह से बंगाली बाल पा सकेंगे।

महिलाएं सिंदूर खेलती हैं

आपको बता दें कि अष्टमी के दिन महिलाएं लाल साड़ी पहनकर सिंदूर चढ़ाकर सिंदूर लगाती हैं। बंगाल की दुर्गा पूजा पूरी दुनिया में मशहूर है।

सफेद और लाल रंग की साड़ी के साथ पहनें ज्वैलरी

ज्यादातर सोने के आभूषण पारंपरिक बंगाली लुक के साथ अच्छे लगते हैं, खासकर अगर आपने सफेद और लाल रंग की साड़ी पहनी है। सफेद और लाल रंग की साड़ी के साथ गोल्डन कलर की ज्वैलरी ही पहनें। अगर आपने किसी और रंग की साड़ी पहनी है तो उस साड़ी के साथ मैचिंग ज्वैलरी ही पहनें।

Share this story