Samachar Nama
×

उदयपुर जिले में 31 मिनट में किया 5100 बार गायत्री मंत्र का जाप

झीलों की नगरी उदयपुर के 45 लोगों के समूह ने 31 मिनट में 5100 बार गायत्री मंत्र का जाप किया. अमरखाजी की घाटियों में स्थित अमरखाजी महादेव मंदिर परिसर में समूह में गायत्री मंत्र का जाप किया गया........
gfd
उदयपुर न्यूज़ डेस्क !!! झीलों की नगरी उदयपुर के 45 लोगों के समूह ने 31 मिनट में 5100 बार गायत्री मंत्र का जाप किया. अमरखाजी की घाटियों में स्थित अमरखाजी महादेव मंदिर परिसर में समूह में गायत्री मंत्र का जाप किया गया। इसे विश्व रिकॉर्ड में शामिल करने के लिए आवेदन किया गया है.

यह कार्यक्रम दृष्टि फाउंडेशन और रोटरी क्लब उदयपुर दृष्टि की ओर आयोजित किया गया था, जो महिलाओं को सशक्त बनाने और उनके सपनों को साकार करने के लिए काम कर रहा है। इसके तहत उदयपुर के 45 लोगों ने समूह में गायत्री मंत्र ॐ भूर्भुव: स्व: तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो न: प्रचोदयात्... का जाप शुरू किया और 31 मिनट में 5100 बार गायत्री मंत्र का जाप किया गया.
अध्यात्म को बढ़ावा देने के लिए आयोजित किया गया

फाउंडेशन के संस्थापक डॉ. स्वीटी छाबड़ा ने कहा कि अध्यात्म को बढ़ावा देने की सोच से ऐसा किया गया है. आध्यात्मिक का अर्थ है आत्मा का आत्मा से मिलन, मन के साथ संबंध स्थापित करना और यह सब शांति से होगा। छाबड़ा ने कहा कि आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में हर व्यक्ति मानसिक तनाव में है और इस तनाव के बीच राहत के लिए शांति जरूरी है और इसके लिए ऐसे व्यायाम होने चाहिए। उन्होंने कहा कि उदयपुर की महिलाओं के ऐसे प्रयासों से और भी बहुत सी महिलाओं को प्रेरणा मिलेगी.

इसमें देवस्थान विभाग के आयुक्त वासुदेव मालावत, सहायक आयुक्त जतिन गांधी, ग्रुप की वैशाली मोटवानी, सुनीता सिंघवी, हंसिका चड्ढा, ओम दवे, दुर्गा मेघवाल, ममता राव, मोनिका ठाकुर, दुर्गा चौहान आदि ने भाग लिया। यूनिक वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के नेशनल जज विनय भानावत की मौजूदगी में सभी ने गायत्री मंत्र का पाठ किया। फाउंडेशन के डाॅ. दृष्टि छाबड़ा ने कहा कि इस पाठ से मन को शांति मिलती है और ऐसा लगता है कि भगवान सीधे मिल रहे हैं, इसलिए हमने सोचा कि हमें यह रिकॉर्ड बनाना चाहिए. इसके तहत इसे मूर्त रूप दिया गया और आज हम बेहद खुश हैं.

Share this story

Tags