Samachar Nama
×

Shimla इमरजेंसी और ट्रॉमा वार्ड जल्द होंगे नये ओपीडी में शिफ्ट, आईजीएमएसी में मरीजों को मिलेगी राहत
 

Shimla इमरजेंसी और ट्रॉमा वार्ड जल्द होंगे नये ओपीडी में शिफ्ट, आईजीएमएसी में मरीजों को मिलेगी राहत

हिमाचल प्रदेश न्यूज़ डेस्क, आईजीएमसी में ट्रॉमा और इमरजेंसी वार्ड को जल्द ही नई ओपीडी बिल्डिंग में शिफ्ट करने की तैयारी चल रही है। बता दें कि आईजीएमसी में वर्तमान में चल रहे इमरजेंसी और ट्रॉमा वार्ड में मरीजों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। फिलहाल इन वार्डों में इमरजेंसी बेड की संख्या कम होने के कारण कई बार मरीजों का इलाज ट्रॉली पर ही करना पड़ता है. इमरजेंसी में प्रतिदिन 100-150 मरीज आते हैं। जिससे मरीजों व उनके तीमारदारों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। जिसके चलते सरकार और अस्पताल प्रशासन ने नए इमरजेंसी और ट्रॉमा वार्ड बनाने का निर्णय लिया। लेकिन समय पर काम पूरा नहीं होने के कारण मरीजों को अब भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. बता दें कि एक माह पहले इन वार्डों को नई ओपीडी में शिफ्ट करने की योजना थी।

लेकिन नये वार्ड में काम पूरा नहीं होने के कारण इसे नवरात्र तक शिफ्ट करने की योजना है. नए ओपीडी भवन में बनने वाले नए इमरजेंसी और ट्रॉमा वार्ड की बेड क्षमता 100 होगी, जिससे मरीजों को काफी राहत मिलेगी. नई ओपीडी बिल्डिंग में पार्किंग को इमरजेंसी वार्ड से जोड़ने का काम चल रहा है। यहां लगाई जाने वाली सीटी स्कैन मशीन के लिए वार्ड में कुछ बदलाव किए जाने हैं। जिसमें अधिक समय लग रहा है. जिसके कारण शिफ्टिंग कार्य में देरी हो रही है. आईजीएमसी प्रशासन के मुताबिक यह काम जल्द पूरा कर लिया जाएगा. इस दिशा में प्रयास जारी हैं.

क्या कहते हैं चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राहुल राव?
आईजीएमसी शिमला के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राहुल राव ने बताया कि नई ओपीडी में इमरजेंसी और ट्रॉमा वार्ड को शिफ्ट करने का काम तेजी से चल रहा है. नई ओपीडी के पास बन रही पार्किंग के कारण काम में देरी के कारण शिफ्टिंग में देरी हो रही है। लेकिन अब समस्या का समाधान हो गया है. इन विभागों को नवरात्र तक शिफ्ट कर दिया जाएगा। जिससे मरीजों को जल्द ही बेहतर सुविधाएं मिलेंगी। सुविधाएं उपलब्ध कराना प्राथमिकता है.
शिमला न्यूज़ डेस्क!!!
 

Share this story