Samachar Nama
×

Sawai madhopur खंडार प्रधान ने मांगा था दो दिन का समय, 4 दिन बाद खुले कृषि कार्यालय, पहुंचे अधिकारी-कर्मचारी

Sawai madhopur खंडार प्रधान ने मांगा था दो दिन का समय, 4 दिन बाद खुले कृषि कार्यालय, पहुंचे अधिकारी-कर्मचारी

राजस्थान न्यूज डेस्क, खंडार प्रधान नरेंद्र चौधरी द्वारा खंडार यूरिया खाद को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों से जामस्थल में दो दिन के विस्तार की मांग के बाद मंगलवार को पुलिस, प्रशासन और कृषि विभाग के अधिकारियों ने राहत की सांस ली. आज पंचायत समिति परिसर स्थित खंडार सहायक कृषि अधिकारी कार्यालय में एक भी किसान नजर नहीं आया जबकि पिछले 10 दिनों से 3000 से अधिक किसान यहां डेरा डाले हुए हैं. स्थिति इतनी विकट थी कि अधिकारी इस कार्यालय तक पहुंचने से भी कतरा रहे थे।

इस कारण पिछले 4 दिनों से इस कार्यालय पर ताला लटका हुआ था। यह कार्यालय आज से पहले आखिरी बार शुक्रवार को थोड़े समय के लिए खुला था। इस दौरान किसानों को यूरिया खाद टोकन वितरण के दौरान भीड़ ने कार्यालय पर पथराव कर दिया, जिससे अधिकारियों व कर्मचारियों को अपनी जान बचाने के लिए कार्यालय बंद कर भागना पड़ा. तब से पुलिस के अलावा कोई भी अधिकारी और कर्मचारी इस कार्यालय के आसपास आने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था। मंगलवार को किसानों के यहां नहीं पहुंचने का सबसे ज्यादा फायदा कृषि अधिकारियों ने उठाया। सुबह साढ़े दस बजे कार्यालय का ताला खोलकर सफाई शुरू की। कार्यालय के अंदर टूटे शीशे और पत्थर इधर-उधर बिखरे पड़े थे। गौरतलब है कि प्रधान द्वारा किसानों को दिया गया विस्तार बुधवार को समाप्त होने वाला है। ऐसे में अगर किसानों को पर्याप्त खाद नहीं मिली तो यह कार्यालय फिर से किसानों का बड़ा हब बन सकता है.
सवाई माधोपुर न्यूज डेस्क!!!
 

Share this story