Samachar Nama
×

Rohtas राजेन्द्र श्वेता धान बीज किसानों को भा रहा, कुल आठ प्रभेद के बीज किसान ले सकते 

PM Kisan Yojana: दूसरों के खेतों में काम करने वाले किसानों को मिलता है पीएम किसान योजना का लाभ?

बिहार न्यूज़ डेस्क मीठापुर कृषि अनुसंधान संस्थान में कई नए प्रभेद के धान के बीज की बिक्री हो रही है. बीज 42 रुपए से लेकर 77 रुपए किलो तक मिल रहा है. किसानों को आवश्यकतानुसार हर प्रभेद के बीज मिलेंगे.

किसानों के बीच धान बीज में सबसे अधिक मांग राजेन्द्र श्वेता की है. यह 140-145 दिन में तैयार होता है. इसकी उपज 40 से 45 क्विंटल प्रति हेक्टेयर है. पतला महीन और छोटे दाने वाला यह बीज 47 रुपए किलो और आधार बीज 52 रुपए प्रति किलो मिल रहे हैं. जिसके कारण किसानों के बीच इसकी मांग अधिक है.

कुल आठ प्रभेद के बीज किसान ले सकते किसान यहां से कुल आठ प्रभेद के प्रमाणित बीज ले सकते हैं. इसमें राजेन्द्र श्वेता प्रमाणित और राजेन्द्र श्वेता आधार, सबौर हीरा, राजेन्द्र सुभाषणी, सबौर संपन्न, सबौर श्री, राजेन्द्र कस्तूरी, सांभा मंसूरी के बीज हैं. सबसे सस्ता प्रमाणित बीज सबौर संपन्न 150-155 दिनों में तैयार हो जाती है.

ने वाली 55-60 क्विंटल प्रति हेक्टेयर उपज देगी. यह प्रभेद बाढ़ और सुखाड़ सहने की भी क्षमता रखती है. यह बीज 42 रुपए किलो दिया जा रहा है.

सबौर हीरा 44 रुपए किलो सबौर हीरा धान 145-155 दिनों में तैयार होने वाली 60-70 क्विंटल प्रति हेक्टेयर उपज देगी. यह प्रभेद मध्यम मोटा दाना और मध्यम एवं गहरी जमीन में लगा सकते हैं. यह बीज 44 रुपए किलो दिया जा रहा है. प्रजनक बीज सबौर श्री 135-140 दिनों में तैयार होने वाला प्रभेद है. 77.80 रुपए प्रति किलो वाला यह बीज 50-55 क्विंटल प्रति हेक्टेयर उपज देगा.

राजेन्द्र सुभाषणी सुगंधित के साथ पतला दाना आधार बीज राजेन्द्र कस्तूरी 1-1 दिन में तैयार होने वाली 35-40 क्विंटल प्रति हेक्टेयर उपज देगी. यह बीज 70 रुपए किलो दिया जा रहा है. आधार बीज सांभा मंसूरी 135-140 दिनों में तैयार हो जाता है. 55-60 क्विंटल प्रति हेक्टेयर उपज वाला यह बीज 52 रुपए प्रति किलो दिया जा रहा है. राजेन्द्र सुभाषणी का आधार बीज 1 से 135 दिनों में तैयार होने वाला प्रभेद है. इसकी उपज 40 से 45 क्विंटल प्रति हेक्टेयर है. सुगंधित, मध्यम और पतला दाना वाला यह बीज 70 रुपए प्रति किलो मिल रहा है

 

रोहतास न्यूज़ डेस्क

Share this story