Samachar Nama
×

Rewari बिजली ओवरलोड खत्म करने के लिए बड़े ट्रांसफार्मर लगेंगे
 

. बिजली मंत्रालय ने MoEF और CC को कोयला आधारित बिजलीघरों के लिए उत्सर्जन मानदंडों को कम करने के लिए कहा है


हरियाणा न्यूज़ डेस्क, शहर में ओवरलोड की वजह से कई सेक्टर और कॉलोनियों में लगने वाले बिजली कट से निपटने के लिए दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम जून माह तक ट्रांसफार्मर लगाने के कार्य को पूरा करेगा.
गत वर्ष के मुकाबले इस साल ओवरलोड से निपटने के लिए बिजली निगम बड़े ट्रांसफार्मर लगाएगा, ताकि निर्बाध बिजली आपूर्ति हो सके. शहर में करीब 675 ट्रांसफार्मर लगाए जाने से करीब आठ लाख लोगों को फायदा होगा. गर्मी बढ़ने से बिजली की मांग बढ़ने से बिजली निगम के पुराने ट्रांसफार्मर से फ्यूज उड़ रहे हैं. कई बार इन ट्रांसफार्मर में धमाके के साथ बिजली आपूर्ति ठप हो रही है. बिजली निगम ने ऐसे इलाकों की पहचान कर ओवरलोड ट्रांसफार्मर को बदलने की योजना तैयार की है.


इन ट्रांसफार्मर से ओल्ड फरीदाबाद, नहरपार, सेक्टर-37, सूरजकुंड, एसजीएम नगर, सैनिक कॉलोनी, एनआईटी, जवाहर कॉलोनी, डबुआ कॉलोनी, नंगला इंक्लेव, बल्लभगढ़, पल्ला-सेहतपुर के अलावा सेक्टर इलाके में निर्बाध बिजली मिलेगी.
ओवरलोड की वजह से लगने वाले बिजली कटों से निपटने के लिए बड़े ट्रांसफार्मर लगाए जा रहे हैं. उम्मीद है कि ट्रांसफार्मर लगाने का कार्य पूरा होने के बाद बिजली कट नहीं लगेंगे.
-नरेश कुमार कक्कड़, अधीक्षण अभियंता, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम
मार्च तक ओवरलोड ट्रांसफार्मर को बदलना था
एक अप्रैल से गर्मी का सीजन शुरू होना माना जाता है. इस हिसाब से 31 मार्च तक ओवरलोड ट्रांसफार्मर की पहचान कर उन्हें बदल दिया जाना चाहिए. ताकि ओवरलोड की वजह से लगने वाले कटों के कारण बिजली उपभोक्ताओं को परेशानी न आए. जून माह तक ट्रांसफार्मर लगाने की चलती रहती है. सेक्टर-23 निवासी अधिवक्ता मुकेश कोटिया ने बताया कि निगम को गर्मी शुरू होने से पहले मार्च माह तक ट्रांसफार्मर बदलना था.

रेवाड़ी न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story