Samachar Nama
×

Ranchi रिम्स में 10 दिनों से एक्स रे प्रिंटर खराब

5,000 रुपये से कम में सर्वश्रेष्ठ HP, कैनन प्रिंटर देखें
 

झारखण्ड न्यूज़ डेस्क,  रम्स में इन दिनों में मरीजों को एक्स रे कराने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. मरीजों से रिम्स प्रबंधन एक्स-रे का निर्धारित शुल्क 70 रुपए तो ले रहा है, लेकिन मरीजों को एक्स रे प्लेट नहीं दिया जा रहा है. कारण, एक्स रे प्लेट का प्रिंटर बीते 10 दिनों से खराब है. परिणाम है कि एक्स रे कराने के बाद मरीज के परिजन कंप्यूटर स्क्रीन से एक्स रे की फोटो लेकर डॉक्टर को दिखाते हैं.


ऐसे में जिस मरीज के परिजन के पास स्क्रीन वाला फोन नहीं है या जिनके फोन में बढ़िया कैमरा नहीं है, उन्हें परेशानी हो रही है. ऐसे में विभागीय कर्मियों की कई बार मरीज व परिजनों से बकझक भी होती रहती है. हालांकि प्रबंधन के अनुसार प्रिंटर ठीक करने के लिए कंपनी को कॉल किया गया है. एक-दो दिनों में प्रिंटर दुरुस्त करा लिया जाएगा. रिम्स में मरीजों की सुविधा के लिए दो कंपनी फूजी फिल्म एवं केयर स्ट्रीम के प्रिंटर लगाए गए हैं. फिलहाल रेडियोलॉजी डिपार्टमेंट एवं ट्रॉमा सेंटर में एक्स रे की सुविधा है. दोनों जगह पर दोनों कंपनी के प्रिंटर लगाए गए हैं. लेकिन परेशानी यह है कि रिम्स प्रबंधन द्वारा बीते लगभग एक साल से अधिक समय से केयरस्ट्रीम के फिल्म की आपूर्ति ही नहीं की जा रही है, जबकि उसका प्रिंटर सही है. वहीं, फूजी की फिल्म तो आपूर्ति की जा रही है, तो उसका प्रिंटर ही खराब है.
जिस कारण मरीजों को शुल्क अदा करने के बाद भी एक्स रे प्लेट नहीं दिया जा रहा है. यही नहीं, मरीजों की सुविधा के लिए रिम्स के गायनी, न्यूरो, कार्डियोलॉजी एवं ट्रॉमा सेंटर आदि विभागों में पोर्टेबल एक्स रे मशीन दी गई हैं. लेकिन ट्रॉमा सेंटर से स्पेशल केस में और अन्य विभागों के गंभीर मरीजों को भी एक्स रे कराने के लिए रेडियोलॉजी विभाग लाना पड़ता है. हालांकि यहां भी केवल एक ही डीआर मशीन संचालित है. लेकिन यहां एक्स रे कराने के बाद भी मरीजों को प्लेट नहीं दिया जा रहा है.

राँची न्यूज़ डेस्क !!!
 

Share this story

Tags