Samachar Nama
×

Patna  जल्ला रोड : दो किमी तक खोद दी सड़क, 40 हजार की आबादी परेशान
 

Patna  जल्ला रोड : दो किमी तक खोद दी सड़क, 40 हजार की आबादी परेशान


बिहार न्यूज़ डेस्क जल्ला रोड से एनएमसीएच तक का रास्ता गुजरना मुश्किल हो गया है। अजीमाबाद अंचल के वार्ड नंबर 56 के इस रास्ते पर दिन भर धूल भरी आंधी चलती रहती है. शनिवार दोपहर 12.30 बजे जल्ला रोड से गुजर रहा एक बाइक चालक आंख में धूल के कारण दुर्घटना का शिकार होने से बच गया। सड़क पर मिट्टी की मोटी परत है। नमामि गंगे परियोजना के तहत बने गड्ढों की मिट्टी धूल के कणों के रूप में हवा में उड़ रही है। नतीजतन, बाइक सवारों या पैदल चलने वालों के लिए बिना चेहरा ढके निकलना मुश्किल है।

नाला उदाही से निकलने वाली पूरी सड़क गाद और गड्ढों वाली मिट्टी से भर गई है। हल्की बारिश होते ही इस मार्ग पर फिसलन की समस्या पैदा हो जाएगी और हादसों का ग्राफ बढ़ जाएगा। सड़क पर मलबा होने से चार पहिया वाहनों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। एनएमसीएच में रोजाना सैकड़ों मरीज इसी रास्ते से इलाज के लिए आते हैं। उबड़-खाबड़ सड़कों और उड़ती धूल के कारण उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। पश्चिमी लेन पर आगमकुआं आरओबी से पहाड़ी मोड़ तक परियोजना का काम पांच महीने से चल रहा है। जिससे यह लेन पूरी तरह से बंद है। पूर्वी लेन पर दोनों रूटों पर वाहनों के दबाव के कारण रोज आरओबी के पास जाम की समस्या पैदा हो रही है.

पांच साल पहले बनी थी सड़क, एक साल से गड्ढों से भरी है वार्ड संख्या साठ में करीब दो किलोमीटर लंबी अशोक चक्र सड़क पांच साल पहले बनी थी। पिछले साल इस रास्ते पर नमामि गंगे परियोजना का काम शुरू हुआ था, जो आज तक पूरा नहीं हो सका है. पूरी सड़क गड्ढों से पट गई है। जिससे करीब 40 हजार की आबादी प्रभावित है।

बारिश को देखते हुए नमामि गंगे परियोजना का काम रोक दिया जाए। जिन इलाकों में गड्ढे हो गए हैं। वहां सड़क को समतल करने की जरूरत है। एजेंसी का काम इतनी धीमी गति से चल रहा है कि एक साल बाद भी कई गलियों में सड़क पर गड्ढे बने हुए हैं। जलजमाव की स्थिति में स्थानीय पार्षद को जनता के आक्रोश का सामना करना पड़ेगा। इस समस्या से विभागीय अधिकारियों को अवगत कराया जा रहा है। शोभा देवी, पार्षद, वार्ड नंबर 60

गड्ढों के कारण वाहन सवार हादसों का शिकार हो रहे हैं। अगले तीन महीने बारिश को देखते हुए नमामि गंगे का काम रोक दिया जाए। जल्ला रोड, आगमकुआं आदि क्षेत्रों में गड्ढों की मरम्मत जरूरी है। इस संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों को पत्र लिखा जा रहा है।

किस्मतिया देवी, पार्षद वार्ड नंबर 56

नमामि गंगे परियोजना ने राजधानी की सूरत खराब कर दी है। बारिश शुरू होने से पहले सड़कों पर गड्ढों को समतल करना आवश्यक है। विभागीय अधिकारी त्वरित कार्रवाई कर सड़कों की मरम्मत कराएं। जिससे लोगों को परेशानी से बचाया जा सके।

राजेश्वर राय, भूतपूर्व सैनिक एवं समाजसेवी

पटना  न्यूज़ डेस्क
 

Share this story