Samachar Nama
×

Nalnda गर्भधारण में एएनसी जांच जरूरी, गर्भधारण से 12वें सप्ताह तक पहली जांच जरूरी 
 

Nalnda गर्भधारण में एएनसी जांच जरूरी, गर्भधारण से 12वें सप्ताह तक पहली जांच जरूरी 


बिहार न्यूज़ डेस्क सुरक्षित प्रसव को लेकर स्वास्थ्य विभाग की ओर से गर्भवती महिलाओं के लिए सदर अस्पताल, अनुमंडल अस्पताल तथा सभी पीएचसी में प्रत्येक माह की 9 तथा 21 तारीख को एएनसी जांच करायी जाती है.
जांच के बाद चिकित्सक द्वारा आयरन और कैल्शियम की दवा भी उपलब्ध कराई जाती है. इसके अलावा आंगनबाड़ी केन्द्र में गर्भवती की जांच की जाती है. जिससे सुरक्षित प्रसव को बढ़ावा मिल रहा है. गर्भवती महिलाओं को गर्भधारण से लेकर प्रसव होने तक 04 बार एएनसी जांच अवश्य करानी चाहिए.

एसीएमओ डा.आनंद शंकर शरण सिंह बताते हैं कि गर्भवती महिलाओं की प्रसव पूर्व 04 बार एएनसी जांच होनी जरूरी है. पहली जांच गर्भधारण से 12वें सप्ताह तक, दूसरी जांच 14 से 26वें सप्ताह तक, तीसरी जांच 28 से 34वें सप्ताह तक और अंतिम व चौथी जांच 36वां सप्ताह से लेकर प्रसव के पहले तक कराना जरूरी है.
इसके अलावा प्रसव के दौरान गर्भवती को खान पान पर विशेंष ध्यान रखने की आवश्यकता है. चिकित्सक की सलाह के अनुसार आयरन और कैल्शियम की गोली के अलावा प्रोटीन युक्त आहार का प्रयोग भोजन में करना चाहिए. दूध, अंडा, मांस मछली के साथ हरी सब्जियों का भरपूर प्रयोग करना चाहिए.

नालंदा  न्यूज़ डेस्क
 

Share this story