Samachar Nama
×

Motihari 15 प्रखंडों की 17 पंचायतों में वरीय अधिकारियों ने की जांच

Nainital दिल्ली, भोपाल के कई रसूखदार जांच के घेरे में

बिहार न्यूज़ डेस्क निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जिले के 15 प्रखंडों के 17 पंचायतों में जिलास्तर पर प्रतिनियुक्त अधिकारियों ने  स्कूल, आंगनवाड़ी सहित पंचायत में संचालित विभिन्न योजनाओं की प्रगति और उसकी क्रियान्वयन की प्रक्रियाओं की जांच की और आवश्यक निर्देश दिये.

डीएम अरविन्द कुमार वर्मा के द्वारा दिये गये आदेश के अनुसार सभी प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों ने अपने-अपने निर्धारित पंचायत में साढ़े नौ बजे पहुंचकर जांच शुरू कर दी. जांच के बाद अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट डीडीसी की अध्यक्षता में गठित टीम को सौंप दिया. जो अपने प्रतिवेदन के साथ संचिका में डीएम को सौंपेगा. इसके तहत एडीएम ने बिस्फी के खैरा बांका उत्तर की और डीडीसी ने खुटौना के पिपराही पंचायत में जांच कार्य किया. इजरा पंचायत में वरीय उपसमाहर्त्ता मयंक सिंह ने जांच की.

इन्होंने यहां के स्कूल व आंगनबाड़ी में सघन जांच की. इसदौरान स्कूल में शिक्षक व छात्रों की उपस्थिति, शिक्षा की गुणवत्ता, पोशाक, पुस्तक, छात्रवृत्ति, साइकिल, पीएम पोषण योजना, पुस्तकालय, स्मार्ट क्लास, शौचालय, विद्युत की आपूर्ति व अन्य बिन्दुओं की जांच की. इन्होंने पंचातय में संचालित कचरा के प्रबंधन व उसके प्रसंस्करण की प्रक्रियाओं के संबंध में जानकारी ली और जरूरी निर्देश दिये. बताया कि पॉलीथिन के उपयोग लोग नहीं करें, इसके लिए सभी को जागरुक करें. नव निर्मित डब्लूपीयू का भी निरीक्षण किया. इन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, समेकित बाल विकास सेवा, अजा, पिछड़ा वर्ग व अल्पसंख्यक कल्याण योजना, जन वितरण प्रणाली, ग्रामीण जलापूर्ति योजना, ग्रामीण सड़कों की स्थिति, पंचायत सरकार भवन, स्ट्रीट लाईट्र भू राजस्व, दाखिल खारिज, लगान रशीद सहित अन्य योजनाओं की जांच की. मुख्यिा जाहिदा खातून के पति के निधन होने पर अपनी संवेदना भी व्यक्त की. मौके पर कनीय अभियंता विभा कुमारी, पंचायत सचिव सोनू कुमार, आवास सहायक सरोज कुमार, लेखापाल अशोक कुमार व अन्य थे.

अधिकारियों ने बलवा में की कई योजनाओं की जांच

मधवापुर प्रखंड के बलवा पंचायत में संचालित विभिन्न योजनाओं की  अधिकारियों ने जांच की. जांच करने वाले पदाधिकारियों में बीडीओ मनोज कुमार मूर्मू और डीपीआरओ राकेश कुमार झा शामिल थे. अउरा के उत्क्रमित उच्च विद्यालय और मध्य विद्यालय के अलावा पंचायत के वार्ड नम्बर द्यदो का पीडीएस सेंटर, पंचायत भवन, अस्पताल, धौस नदी तटबंध, वार्ड नम्बर-13 की गली नली आदि योजनाओं की जांच दोनों पदाधिकारियों ने संयुक्त रूप से की.

लोगों से योजनाओं के संचालन की गतिविधि और उनसे मिलने वाले लाभों के विषय में जरूरी जानकारी ली. बीडीओ मूर्मू ने बताया कि जांच रिपोर्ट जिला प्रशासन को उपलब्ध कराया जायेगा. मौके पर टीएस सुनील कुमार, पीआरएस अर्जुन कुमार, पंचायत सचिव राकेश रंजन, लेखपाल समेत कई लोग मौजूद थे.

जांच में बंद मिली पीडीएस दुकान

डीसीएलआर राजू कुमार ने  रघौली पंचायत में विभिन्न विकास योजनाओं की जांच की. उन्होंने पैक्स गोदाम का जांच किया. जांच में पांच लॉट धान का स्टॉक पाया गया. डीसीएलआर ने ब्रह्मस्थान से मेला गाछी तक मनरेगा से बनने वाली सड़क, पंचायत भवन ,सोख्ता, नलजल योजना, नली-गली, पशुशेड आदि का निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान काजल कुमारी का पीडीएस दुकान बंद पाया गया. उन्होंने पानी के सबसे अधिक दबाब वाले भोला चौक के पास महाराजी बांध का निरीक्षण किया.

स्थानीय ग्रामीणों ने डीसीएलआर को बताया कि इस बार बांध पर कोई वर्क नहीं किया गया है. डीसीएलआर ने बताया कि बांध की स्थिति ठीक है. कहीं-कहीं थोड़ी मिट्टी की जरूरत है. विभाग को इससे अवगत कराया जायगा. उन्होंने पंचायत मुखिया को क्षतिग्रस्त नाली को योजना में लेकर काम शुरू करने को कहा. मौके पर मुखिया शांति देवी, बीसीओ, पैक्स अध्यक्ष संजीव ठाकुर, पंचायत सचिव सुशील कुमार सहित अन्य लोग मौजूद थे.

 

मोतिहारी  न्यूज़ डेस्क

Share this story