Samachar Nama
×

Meerut  सीएम से मिले मेयर, कहा-मेरठ में 80 प्रतिशत हिस्से में सीवरेज नहीं

Lucknow  जलकल की जमीन पर एक और दावा, जल्दी बड़ी कार्रवाई होगी

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  मेयर हरिकांत अहलूवालिया ने लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और नगर विकास मंत्री अरविंद कुमार शर्मा से मुलाकात की. मेयर ने मेरठ शहर की सीवरेज व्यवस्था से लेकर पेयजल आपूर्ति और कूड़ा निस्तारण प्लांट समेत पांच मांगों को प्रमुखता से रखा. उन्होंने बताया मुख्यमंत्री और नगर विकास मंत्री ने इन सभी मांगों पर त्वरित कार्रवाई का आश्वासन दिया है.

शहर की विभिन्न समस्याओं को लेकर मेयर हरिकांत अहलूवालिया अचानक लखनऊ पहुंच गए. उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और नगर विकास मंत्री अरविन्द कुमार शर्मा से अलग-अलग मुलाकात की. मेयर ने मुख्यमंत्री को बताया कि मेरठ शहर की सीवरेज व्यवस्था वर्षों पुरानी है. वह भी करीब 20 प्रतिशत हिस्से में भी है. उन्होंने मांग की कि शेष 80 प्रतिशत हिस्से के सीवरेज को अमृत योजना-2 में शामिल किया जाए.

उन्होंने शहर के सभी 90 वार्डों को हर घर नल योजना से जोड़ने की मांग की ताकि शहर के हर घर को पीने के लिए शुद्ध पानी की व्यवस्था हो सके. एनटीपीसी के साथ कूड़ा निस्तारण प्लांट की जल्द स्थापना की मांग की. मेयर ने जानकारी दी कि मेरठ विकास प्राधिकरण की योजनाओं में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट क्रियाशील नहीं है. इसके लिए मेडा अधिकारियों को निर्देशित किया जाए.

सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट की व्यवस्था सही न होने से शहर के गंदे पानी की व्यवस्था ठीक नहीं है. मेयर ने नगर निगम बोर्ड से पारित सफाई कर्मचारियों के ठेका प्रथा को समाप्त किए जाने पर शासन से कार्रवाई का अनुरोध किया. मेयर ने बताया इन सभी पांच प्रमुख मांगों पर मुख्यमंत्री और नगर विकास मंत्री ने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है ताकि शहर को व्यवस्थित किया जा सके.

 

 

मेरठ न्यूज़ डेस्क

Share this story

Tags