Samachar Nama
×

Lucknow  लखनऊ में 160 करोड़ से सुधरेगी बिजली व्यवस्था

Moradabad आवास विकास बिजलीघर में शटडाउन, पांच घंटे बिजली गुल

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  लखनऊ में 160 करोड़ रुपये से बिजली व्यवस्था सुधारी जाएगी. मध्यांचल विद्युत निगम ने लेसा के चारों जोन को 40-40 करोड़ रुपये आवंटित किया है. इससे नए फीडरों का निर्माण, उपकेंद्रों में डबल सोर्स सप्लाई और ट्रांसफार्मरों की क्षमता वृद्धि की जाएगी. अंडरग्राउंड केबल भी बिछाई जाएगी.

केंद्र सरकार की रिवैम्प योजना के तहत नादरगंज, बीकेटी, चिनहट, इंदिरानगर समेत अन्य क्षेत्रों में बिजली पोल लगाने, एबीसी बदलने का काम चल रहा है. अब मध्यांचल विद्युत निगम ने नगर निगम क्षेत्र में बिजली व्यवस्था में सुधार के लिए वर्ष 2024-25 और 2025-26 के लिए लेसा को 160 करोड़ आवंटित किए हैं. इससे गोमतीनगर, चिनहट, ठाकुरगंज, चौक, रेजीडेंसी, हुसैनगंज, राजभवन, राजाजीपुरम, ऐशबाग, अमीनाबाद, आलमबाग सहित अन्य डिवीजनों में काम किया जाएगा. मध्यांचल विद्युत निगम निदेशक (तकनीकी) ने सभी मुख्य अभियंताओं को पत्र लिखकर डीपीआर भेजने का निर्देश दिया है.

संकट वाले इलाकों में इंफ्रा सुधारा जाएगा राजधानी में पिछले दिनों 1900 मेगावाट तक खपत पहुंच गई. इससे लेसा के अधिकतर उपकेंद्र ओवरलोड हो गए. इस पर गोमतीनगर के विराजखंड, बालाघाट, राजाजीपुरम सहित कई उपकेंद्रों के उपभोक्ताओं को कटौती और लो-वोल्टेज का सामना करना पड़ा. नाराज लोगों ने कई बार उपकेंद्रों पर हंगामा किया. ऐसे में डिस्कॉम स्तर पर तय किया गया कि गर्मी में जिन इलाकों में बिजली बाधित हुई, वहां इंफ्रा सुधारा जाएगा.

आरडीएसएस के कार्य शामिल नहीं योजना में आरडीएसएस (रिवैम्प डिस्ट्रीब्यूशन सेक्टर रिफार्म स्कीम) के कार्य शामिल नहीं किए जाएंगे. लखनऊ सेंट्रल के मुख्य अभियंता रवि अग्रवाल ने बताया कि जिन उपकेंद्रों में सिंगल सोर्स बिजली सप्लाई है, वहां डबल सोर्स किया जाएगा. इसके अलावा ओवरहेड लाइन को अंडरग्राउंड किया जाएगा. जानकीपुरम जोन के मुख्य अभियंता सुनील कपूर ने बताया कि प्रियदर्शनी उपकेंद्र से बेहतर सप्लाई के लिए एक नई केबल बिछाई जाएगी.

ये प्रमुख कार्य होंगे प्रियदर्शिनी, इंटीग्रल उपकेंद्र को डबल सोर्स किया जाएगा. औद्योगिक फीडरों को डबल सर्किट से सप्लाई दी जाएगी. ओवरलोड ट्रांसफार्मरों की क्षमता बढ़ाई जाएगी.

 

 

लखनऊ न्यूज़ डेस्क

Share this story

Tags