Samachar Nama
×

Jhansi  तीन माह बाद भी वार्ड नम्बर  का टेण्डर नहीं खुला

Jhansi  तीन माह बाद भी वार्ड नम्बर  का टेण्डर नहीं खुला

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  ढाई करोड़ रुपए की लागत से नगरीय क्षेत्र के 8 वार्डों में नाली-सड़क निर्माण को लेकर मांगे गए टेण्डर में एक टेण्डर तीन माह बाद भी नहीं खुल सका. जबकि सात टेण्डर खुलने के बाद काम तक शुरू करा दिया गया. वार्ड नम्बर  उन्नाव गेट बाहर की पार्षद रामजानकी ने गहरी नाराजगी व्यक्त कर नगर निगम अफसरों से टेण्डर ना खोले जाने का कारण पूछा? वहीं आरोप लगाया कि मार्च माह में टेण्डर खुल गया होता, तो बारिश से पहले अभी नाली-सड़कों का निर्माण होने से क्षेत्रीय जनता को परेशानी से बचाया जा सकता था. उन्होंने इस पूरे प्रकरण में मेयर व नगर आयुक्त से शिकायत करने की बात कहीं है.

नगरीय क्षेत्र में विकास कार्यों को लेकर नगर निगम ने 24 फरवरी को साढे दो करोड़ से ऊपर के सड़क व नाली निर्माण के टेण्डर मांगे थे. ई-टेण्डरिंग प्रणाली को लेकर विभाग ने जल्द से जल्द काम कराने के लिए अति अल्पकालिक टेण्डर मांगते हुए 5 मार्च को टेण्डर खोलने की तिथि निश्चित कर दी. उक्त निर्माण कार्यों को लेकर ठेकेदारों ने टेण्डर प्रक्रिया में भाग लिया और 5 मार्च को अफसरों ने सात टेण्डर खोल दिए. इधर लोकसभा चुनाव को लेकर आचार संहिता लागू होने से पहले अफसर सभी टेण्डर पर काम शुरू कराने की मंशा को तब ग्रहण लग गया, जब नगर निगम ने टेण्डर के क्रमांक नम्बर 6 वार्ड नम्बर  उन्नाव गेट बाहर के अन्तर्गत बाबू का बाग में राजा सत्तार के मकान से लेकर लक्ष्मण मिस्त्रत्त्ी के मकान एवं बाबू अफसर से नारायण मुखिया के मकान व महेन्द्र कोष्टा से फातमा व अजीज से जुलेखा तक सड़क एवं नाली निर्माण कार्य का टेण्डर ना खोलकर डम्प कर दिया. करीब 3353453 की लागत ए श्रेणी के ठेकेदारों से मांगी निविदा में 6 ठेकेदारों ने भाग लिया था, लेकिन अफसरों ने टेण्डर नहीं खोला. इधर लोकसभा चुनाव की तिथि घोषित होने के बाद 10 दिन बाद अचार संहिता लागू होने का बहाना बनाकर अफसरों ने हाथ खड़े कर दिए.

बोले एक्सईएन

नगर निगम के अधिशासी अभियंता एम र्के ंसह ने कहते हैं कि उक्त काम एन-कैप के जरिए कराए जा रहे है. 8 निर्माण कार्यों को लेकर टेंडर मांगे थे. 5 मार्च को टेण्डर खोले गए थे. वार्ड नम्बर  का टेण्डर क्यों नहीं खुला. इसकी फाइल तलब की गई है. फाइल की जांच के बाद टेण्डर जारी किया जाएगा.

क्षेत्रीय पार्षद ने लगाए आरोप

वार्ड नम्बर  उन्नाव गेट बाहर की पार्षद रामकुमारी यादव का आरोप है कि उनके वार्ड के काम के लिए छह ठेकेदारों ने टेण्डर डाले है. 14 मार्च को टेण्डर खोलने की अनुमति मांगी थी. लेकिन जानबूझकर टेण्डर को नहीं खोला गया और आचार संहिता लागू होने के बाद फाइल डम्प कर दी गई. आचार संहिता खत्म होने के 20 दिन बाद भी ना तो टेण्डर खोला जा रहा है और ना अफसर इस मामले में स्पष्ट जानकारी दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि वह इसकी शिकायत मेयर व नगर आयुक्त से करेगी. बाद इसके काम नहीं हुआ तो शासन से शिकायत कर क्षेत्रीय जनता को लेकर नगर निगम कार्यालय में बैठेंगी.

 

 

झाँसी  न्यूज़ डेस्क

Share this story

Tags