Samachar Nama
×

Gorakhpur लापरवाही में 54 सचिवों का वेतन रोकने के निर्देश

Dhanbad नगर निगम से स्वच्छता पर्यवेक्षक हटाने पर रोक,नगर निगम व सरकार को जवाब दाखिल करने का निर्देश

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  जिले में 5000 से अधिक आबादी वाले ग्राम पंचायतों को सालिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत 35 करोड़ जारी किये हैं. लेकिन 54 ग्राम पंचायतों द्वारा धन को खर्च करने में लापरवाही मिली है. ऐसे में एक लाख से अधिक बैलेंस वाले ग्राम पंचायतों के सचिवों का वेतन रोक दिया गया है. सीडीओ ने आदेश दिया है कि जब तक बैलेंस एक लाख से कम नहीं होगा तब तक वेतन जारी न करें.

ग्रामीण इलाकों में सालिड वेस्ट मैनेजमेंट के तहत 5000 से अधिक आबादी वाले गांवों को 35 करोड़ रुपये की धनराशि जारी की गई है. इन गांवों को 24 लाख से लेकर 75 लाख रुपये दिये गए हैं. इस रकम से वर्मी कंपोस्ट, आरआरसी सेंटर आदि का निर्माण किया जाना है. लेकिन कई ग्राम पंचायत इस रकम को खर्च करने में वेपरवाह हैं. सीडीओ संजय कुमार मीणा ने ऐसे सचिवों का वेतन रोकने का आदेश दिया है जिनका बैलेंस एक लाख रुपये से अधिक है. आदेश में कहा गया है कि इन सचिवों का वेतन तब तक नहीं जारी होगा जब तक बैलेंस एक लाख रुपये से कम नहीं होगा.

पिता-पुत्र की हालत में सुधार, आरोपी गांव छोड़कर फरार

बड़हलगंज इलाके के समयथान पड़ौली भटपुरवा मधुपुर गांव में रास्ते के विवाद मे पिता मुन्नालाल यादव और पुत्र आदित्य यादव को गोली मारने के मामले में पुलिस आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही. आरोपी गांव छोड़कर फरार हैं. उनके घरों पर ताला लटका है. उनकी तलाश में पुलिस ने रिश्तेदारों के घर भी दबिश दी. उधर, मेडिकल कॉलेज में भर्ती पिता-पुत्र की हालत में सुधार है. डॉक्टर दोनों को खतरे से बाहर बता रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक, भटपुरवा मधुपुर गांव मे रास्ते के विवाद को लेकर  की सुबह मुन्नालाल यादव व उनके पुत्र आदित्य उर्फ गोलू को उनके पड़ोसी ने गोली मार दी थी.

 

 

गोरखपुर न्यूज़ डेस्क

Share this story

Tags