Samachar Nama
×

Gaziabad किशोरी को फ्लैट में ले जाकर नाबालिग समेत दो ने दुष्कर्म किया

Ajmer नौकरी का झांसा देकर अजमेर में युवती से दुष्कर्म

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  शालीमार गार्डन थाना क्षेत्र में विधवा मां को बीमार बताकर आठवीं की छात्रा को फ्लैट पर ले जाकर मकान मालिक के नाबालिग भतीजे और उसके दोस्त ने सामूहिक दुष्कर्म किया. घटना 11  की है. पीड़िता को 10 टांके लगाए गए हैं.

मकान मालिक ने पीड़िता और उसकी मां पर समझौते का दबाव बनाकर बंधक बना लिया.  फूफा पहुंचे और वह दोनों को थाना शालीमार गार्डन ले गए. दोनों मुख्य आरोपियों को देर रात गिरफ्तार कर पुलिस ने पीड़िता का इलाज करने वाले चिकित्सक को भी हिरासत में ले लिया है. एक कॉलोनी में किराये के मकान में रहने वाली महिला ने बताया कि पति की डेढ़ साल पहले मौत हो गई थी. वह घरेलू सहायिका के रूप में काम कर 15 वर्षीय बेटी को पढ़ा रही हैं. 11  को मकान मालिक जाहिद का 11वीं में पढ़ने वाला नाबालिग भतीजा और 12वीं में पढ़ने वाला उसका दोस्त मोहित उनके कमरे पर पहुंचा और बेटी से कहा कि तुम्हारी मां की तबीयत ज्यादा खराब है. छात्रा को नाबालिग आरोपी अपनी बहन के फ्लैट पर ले गया. यहां मां के नहीं मिलने पर किशोरी ने पूछा तो मां के दवा लेने जाने की बात कही. आरोपियों ने उसे कोल्ड ड्रिंक दी और खुद भी पी. कोल्ड ड्रिंक पीते छात्रा को बेहोशी छाने लगी. इसके बाद नाबालिग आरोपी और मोहित ने उससे दुष्कर्म किया. निजी अंग में काफी ज्यादा चोट आने पर पीड़िता रोने लगी और दोनों से अस्पताल ले चलने को कहा, लेकिन आरोपी हत्या की धमकी दे फरार हो गए.

चिकित्सक को हिरासत में लिया छात्रा का इलाज करने वाले चिकित्सक की भूमिका भी संदेह के घेरे में है, क्योंकि ऐसे मामलों में चिकित्सक तुरंत पुलिस को सूचना देते हैं. पुलिस चिकित्सक के भी बयान दर्ज करेगी. डीसीपी ट्रांस हिंडन निमिष पाटील का कहना है कि नाबालिग आरोपी और मोहित को गिरफ्तार कर लिया है. अभी तक की जांच में मोहित के दुष्कर्म करने की ही बात सामने आई है. बंधक बनाए जाने की भी पुष्टि नहीं हुई. जाहिद और मुर्सलीन की भूमिका की भी जांच कर रहे हैं. पीड़िता का इलाज करने वाले चिकित्सक को भी हिरासत में लिया है. बयानों के आधार पर आगे की कार्रवाई करेंगे.

 

 

गाजियाबाद न्यूज़ डेस्क

Share this story

Tags