Samachar Nama
×

Darbhanga सूबे में 78 गर्भवतियों ने प्रसव पूर्व चार या अधिक बार कराई जांच

Nainital दिल्ली, भोपाल के कई रसूखदार जांच के घेरे में

बिहार न्यूज़ डेस्क राज्य की 78 प्रतिशत गर्भवतियों ने पिछले एक साल के दौरान कुल चार या उससे ज्यादा बार प्रसव पूर्व जांच की सुविधा का लाभ लिया. प्रदेश के 10 जिले ऐसे भी हैं जहां 90 प्रतिशत से अधिक निबंधित गर्भवतियों की चार बार प्रसव पूर्व जांच हुई.

लक्ष्य के विरुद्ध 113 प्रतिशत गर्भवतियों की चार या उससे अधिक बार प्रसव पूर्व जांच कर शेखपुरा जिला अव्वल है. प्रसव पूर्व चार न्यूनतम 4 बार जांच जरूरी माना जाता है. एचआईएमएस के ताजा आंकड़ों से ये जानकारी मिली है. आंकड़े 2023-24 से इस वर्ष 2024-25 में अप्रैल-मई माह के बीच के दर्ज हैं. राज्य में मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने के लिए गर्भवती महिलाओं का प्रसव पूर्व जांच बढ़ाई जा रही है. संस्थागत प्रसव पर विभाग फोकस कर रहा है. प्रत्येक गर्भवती की चार बार प्रसव पूर्व जांच के साथ कुछ जरूरी जांच भी की जा रही है. राज्य में कुल 33 लाख 38 हजार 7 गर्भवतियों ने एएनसी (पूर्ण न्यूट्रीफिल गिनती) के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया था. इसमें से कुल 26 लाख 11 हजार 125 गर्भवतियों की चार या उससे अधिक प्रसव पूर्व जांच की गयी. चार प्रसव पूर्व जांच करने में राज्य के 10 जिलों ने रजिस्टर्ड एएनसी में से 90 प्रतिशत से अधिक गर्भवतियों की चार या उससे ज्यादा बार प्रसव पूर्व जांच की. प्रथम तीन सबसे ज्यादा एएनसी करने वाले जिले में शेखपुरा, मुंगेर और अरवल शामिल हैं. सभी जिलों ने 50 प्रतिशत अधिक पूर्ण एएनसी की है.

प्रसव पूर्व जांच कराने से सुरक्षित प्रसव और उच्च जोखिम वाली स्थिति का पता चलता है. इससे प्रबंधन आसान हो जाता है. यह मातृ एवं शिशु मृत्यु दर को कम करने में भी सहायक है.

-डॉ इंदिरा प्रसाद, स्त्रत्त्ी एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ, पटना एम्स

● राज्य में कुल 56 प्रतिशत संस्थागत प्रसव सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्र पर हुए

प्रथम तिमाही के पहले दो महीने तक राज्य में कुल 56 प्रतिशत संस्थागत प्रसव सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्र पर हुए हैं, जबकि मात्र 3.7 प्रतिशत प्रसव निजी संस्थानों में हुए हैं. सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्र पर संस्थागत प्रसव कराने में पूर्णिया जिला 86 प्रतिशत के साथ सबसे आगे है. आठ जिलों के निजी संस्थानों ने जीरो संस्थागत प्रसव की रिपोर्ट दी है.

 

दरभंगा न्यूज़ डेस्क

Share this story

Tags