Samachar Nama
×

Bhopal  एजेंटों व कियोस्क संचालकों को पसंद नहीं आ रहा, कार्यालय के बाहर किया प्रदर्शन, नारेबाजी

vv

भोपाल न्यूज डेस्क।। हाल ही में राजधानी स्थित क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) के अतिरिक्त प्रभारी बनाए गए जितेंद्र शर्मा का काम एजेंटों और कियोस्क संचालकों को रास नहीं आ रहा है। एजेंटों ने आरटीओ शर्मा के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए आरोप लगाया है कि वाहन ट्रांसफर, ड्राइविंग लाइसेंस, फिटनेस, वाहन पंजीकरण आदि के आवेदन चार-पांच दिन से रुके हुए हैं।

बुधवार को आढ़ती और कियोस्क संचालक अपनी दुकानें बंद कर आरटीओ शर्मा के खिलाफ सड़कों पर उतर आए। इस दौरान एजेंटों ने आरटीओ तुम्हारी तानाशाही नहीं चलेगी के नारे भी लगाए। परिवहन मंत्री उदय प्रताप सिंह ने परिवहन आयुक्त डीपी गुप्ता से प्रभारी आरटीओ शर्मा को हटाने की मांग की.

आवेदकों को परेशान करना
ट्रांसपोर्ट एडवाइजरी एसोसिएशन के अध्यक्ष धीरेंद्र सिंह, जगदीश शर्मा, रहमान, नौशाद समेत अन्य आरटीओ एजेंट व कियोस्क संचालकों ने कहा कि जब आरटीओ से संबंधित कामकाज ऑनलाइन होते हैं। वाहन ट्रांसफर, वाहन पंजीकरण नवीनीकरण, लाइसेंस नवीनीकरण की पूरी जानकारी आधार और मोबाइल नंबर से पोर्टल पर उपलब्ध है। फिर उन्होंने आवेदकों को आरटीओ में बुलाकर उनका सत्यापन क्यों कराना शुरू कर दिया?

शहर से दूरी
उन्होंने आरोप लगाया कि प्रभारी आरटीओ शर्मा उन्हें बेवजह परेशान कर रहे हैं। ऐसे में लोगों को पहले ऑनलाइन आवेदन करना होगा और फिर संबंधित दस्तावेजों को सत्यापित करने के लिए आरटीओ आना होगा। शहर से कोकता ट्रांसपोर्ट नगर आरटीओ की दूरी 15 से 25 किमी है। अगर एक दिन आरटीओ या कर्मचारी नहीं आए तो लोगों को अगले दिन आना पड़ता है। ऐसे में ऑनलाइन काम कराने की सुविधा के बावजूद लोग बार-बार आरटीओ आकर परेशान होंगे।

मध्यप्रदेश न्यूज डेस्क।। 

Share this story

Tags