Samachar Nama
×

Allahbad सूखे से 25 हजार हेक्टेयर खेती, बाढ़ से 920 किसानों की फसल खराब
 

Allahbad सूखे से 25 हजार हेक्टेयर खेती, बाढ़ से 920 किसानों की फसल खराब


उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  इस बार सूखे और बाढ़ से जिले के किसान समान रूप से प्रभावित हुए हैं. जहां एक तरफ करीब 25 हजार हेक्टेयर जमीन सूखे से प्रभावित हुई वहीं 920 किसानों की फसल बाढ़ में डूबने से बर्बाद हो गई. सरकार को सूखे की रिपोर्ट भेजने के साथ ही बाढ़ राहत पैकेज देने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. हालांकि, बाढ़ से प्रभावित किसानों की रिपोर्ट अभी प्रारंभिक है. आगे की जांच में और भी किसान इसकी जद में आ सकते हैं.

मेजा, कोरांव और शंकरगढ़ इलाकों में करीब 12 हजार हेक्टेयर जमीन बची हुई है जहां फसल पूरी तरह प्रभावित हुई है. वहीं करीब साढ़े 12 हजार हेक्टेयर जमीन ऐसी रही, जहां सिर्फ 33 से 50 फीसदी धान की ही फसल हो पाती थी. सरकार ने हाल ही में इन दोनों हिस्सों में रिपोर्ट मांगी थी. सर्वे के बाद रिपोर्ट शासन को भेज दी गई है. उम्मीद है कि जल्द ही इन किसानों के लिए सरकारी स्तर पर राहत पैकेज जारी किया जाएगा.

वहीं घुरपुर में 810 और करछना में 110 किसान ऐसे हैं जिनकी पूरी फसल बाढ़ से प्रभावित हुई है. प्राथमिक सर्वेक्षण में किसानों की फसल खराब होने की स्थिति में इन किसानों का डाटा पोर्टल पर अपलोड करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है. एडीएम वित्त एवं राजस्व जगदंबा सिंह ने बताया कि एसडीएम से रिपोर्ट मिलने के बाद बाढ़ प्रभावित किसानों को 13,500 रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से अनुदान दिया जाएगा. हालांकि इस साल बाढ़ की अवधि लंबी हो गई है. ऐसे में बहादुरपुर, मेजा, मांडा, फाफामऊ क्षेत्रों का भी सर्वेक्षण किया जा सकता है. यहां सर्वे के बाद फाइनल रिपोर्ट आने के बाद बाढ़ प्रभावितों की संख्या बढ़ सकती है. किसानों के लिए राहत पैकेज जारी किया जाएगा.

इलाहाबाद न्यूज़ डेस्क

Share this story