Samachar Nama
×

Aligarh  वीडियो पर घमासान, विरोध का ऐलान, आगरा कॉलेज से वायरल हुआ था  परीक्षा का एक वीडियो

विरोध

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  आगरा कॉलेज में परीक्षा कक्ष का वीडियो बनाने पर एक कर्मचारी के खिलाफ जांच शुरू हो गयी है. प्राचार्य प्रो. अनुराग शुक्ला के अनुसार  बीएससी तृतीय वर्ष की अंतिम पाली की परीक्षा में एक कर्मचारी जो कक्ष निरीक्षक के रूप में ड्यूटी दे रहा था. उसने परीक्षा का वीडियो बनाकर बाहर किसी ग्रुप में भेजा, ऐसी शिकायत मिली थी. लिखित शिकायत केन्द्र अधीक्षक डॉ. विनोद कुमार एवं डॉ. चन्द्रवीर सिंह की ओर से की गयी है. इसमें कहा गया है कि तृतीय श्रेणी अस्थाई कर्मचारी कक्ष संख्या 102 में कक्ष निरीक्षक का कार्य करते हुए परीक्षा के दौरान कमरे की वीडियोग्राफी कर अन्यत्र भेज ग्रुप में डलवाकर परीक्षा शुचिता, परीक्षा नियमावली का उल्लंघन किया. परीक्षा की शुचिता एवं गोपनीयता को दृष्टिगत रखते हुए अतिसंवेदनशील है.

कमेटी में संयोजक प्रो. सुनील यादव, सह संयोजक प्रो. अमित रावत और राजीव सिंह को शामिल किया गया है. कमेटी ने  आरोपी कर्मचारी के बयान भी दर्ज किए हैं. कमेटी तीन दिन में अपनी रिपोर्ट देगी. इसके बाद अतिसंवेदनशील प्रकरण का नियमानुसार निस्तारण किया जाएगा. वहीं पूरे मामले में  जमकर घमासान हुआ. कमेटी ने आरोपी कर्मचारी को पक्ष रखने के लिए बुलाया. इससे पूर्व कर्मचारी मंदिर में बेहोश होकर गिर गया. इससे कर्मचारी आक्रोशित हो गए.

कर्मचारियों ने कॉलेज प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और  से परीक्षा कार्य में सहयोग ना करने का ऐलान कर दिया. कर्मचारियों के रुख पर उप प्राचार्य की ओर से परीक्षा में सहयोग ना करने पर कड़ी कार्रवाई की बात करते हुए आदेश जारी कर दिया. इससे कॉलेज में घमासान और तेज हो गया.

आगरा कॉलेज के सीपीयू बाहर ले जाने का आरोप

आगरा कॉलेज में चल रहा विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. नया आरोप प्राचार्य पर कॉलेज के कम्प्यूटर सीपीयू को बाहरी लोगों के माध्यम से बाहर ले जाने पर लगा है. कॉलेज के बोर्ड ऑफ ट्रस्ट के सदस्य सुभाष ढल के अनुसार उन्हें कॉलेज के माध्यम से जानकारी मिली है कि कॉलेज प्राचार्य बीबीए और बीसीए के सारा डाटा जो दो सीपीयू में था. उसे बाहर ले गए हैं. उन्होंने कहा कि इस मामले को बोर्ड आफ ट्रस्टीज के अध्यक्ष संज्ञान में लाया जाएगा. क्योंकि यह मामला कानून की परिधि में आता है. इसकी जांच अत्यंत आवश्यक है. वहीं प्राचार्य प्रो. अनुराग शुक्ला के अनुसार कॉलेज में वोकेशनल कोर्स स्किल पार्टनर की ओर चलाया जाता है. उसके कम्प्यूटर में कमी थी. उसकी जानकारी स्किल पार्टनर की ओर से मुझे दी गयी. मेरी अनुमति के बाद ही खराब सीपीयू को लेकर गया.

 

 

अलीगढ़ न्यूज़ डेस्क

Share this story

Tags