Samachar Nama
×

Aligarh  ऑपरेशन जागृतिआईआईएम इंदौर ने जारी की सर्वे रिपोर्ट

Raipur वाताहारी वटी कोलकाता लैब में भी फेल, औषधि विभाग की लैब रिपोर्ट पर आपत्ति के बाद दोबारा जांच

उत्तरप्रदेश न्यूज़ डेस्क  आपरेशन जागृति फेज-वन की आईआईएम इंदौर द्वारा तैयार की गई सर्वे रिपोर्ट  एडीजी जोन अनुपम कुलश्रेष्ठ के द्वारा जारी की गई. रिपोर्ट में महिला सुरक्षा व सशक्तिकरण पर ऑपरेशन के प्रभाव सामने आने का जिक्र है. आगरा जोन के सात जनपदों में रिसर्च टीम ने इसको लेकर सर्वे किया था.

एडीजी जोन की पहल पर आगरा जोन में ऑपरेशन जागृति की शुरूआत बीते वर्ष की गई थी. ऑपरेशन का उद्देश्य महिलाओं के प्रति होने वाली हिंसा, उत्पीड़न व महिलाओं के नाम पर झूठे मुकदमे दर्ज कराने से रोकना था. इस ऑपरेशन में पुलिस ने अन्य सम्बन्धित विभागो जैसे स्वास्थ्य, शिक्षा, ग्राम विकास, महिला एवं बाल विकास विभाग, युवा एवं खेल विभाग आदि को शामिल किया. ऑपरेशन जागृति फेज-वन के सर्वे की शुरुआत प्रो. हिमांशु राय, डायरेक्टर आईआईएम इन्दौर की ओर से की गई थी. रिपोर्ट के अनुसार ऑपरेशन जागृति के मूल्यांकन के आधार पर यह निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि ऑपरेशन जागृति ने जमीनी स्तर पर महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण पर महत्वपूर्ण सकारात्मक प्रभाव डाला है. ऑपरेशन में विभिन्न विभागों के अग्रणी/जमीनी कर्मचारियों जैसे- बीट कास्टेबलों आशा , शिक्षक , पंचायत सचिव आदि का उपयोग करते हुए समाज के कमजोर वर्गो तक एक व्यापक और प्रभावी पहुंचे.

किसी के बहकाबे में आकर न कराएं झूठे मुकदमे दर्ज

एसएसपी के निर्देशन में ऑपरेशन जागृति फेस-2 अभियान के तहत क्षेत्राधिकारियों व महिला पुलिसकर्मियों ने महिलाओं व बालिकाओं ऑपरेशन जागृति के बारे में जानकारी देते हुए उनके अधिकार और सुरक्षा के बारे में जागरूक किया. महिलाओं को बताया कि किसी के बहकावे में आकर झूठे मुकदमे पंजीकृत न कराएं. से आपरेशन जागृति का दूसरा चरण शुरू हो गया, जो चलेगा.महिलाएं परेशानी में हो तो पुलिस को तत्काल सूचना दें,उनकी मदद की जाएगी.

 

 

अलीगढ़ न्यूज़ डेस्क

Share this story

Tags