Samachar Nama
×

गुरुवार के दिन व्रत में रखें इन बातों का ध्यान, जानिए व्रत के नियम 

Thursday fast know rules importance dos and donts

ज्योतिष न्यूज़ डेस्क: हिंदू धर्म मान्यताओं के अनुसार गुरुवार का दिन भगवान श्रीहरि विष्णु और देव गुरु बृहस्पति की पूजा के लिए समर्पित हैं इस दिन लोग उपवास करते हैं और इनकी पूजा विधि पूर्वक करते हैं जो लोग गुरुवार को व्रत रखते हैं उनको व्रत के नियमों का पालन करना होता हैं

Thursday fast know rules importance dos and donts

गुरुवार व्रत करने से जातक के बिगड़े काम बनते हैं विवाह की बाधाएं दूर होती हैं और कुंडली में गुरु ग्रह संबंधित दोष भी दूर हो जाते हैं ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार गुरुवार के दिन अपने गुरु का आशीर्वाद लेना भी उत्तम होता हैं बड़े बुजुर्गों की सेवा करने से उत्तम फल मिलता हैं तो आज हम आपको गुरुवार व्रत के नियम बता रहे हैं तो आइए जानते हैं। 

Thursday fast know rules importance dos and donts
गुरुवार का व्रत रखना चाहते हैं तो आपको उस गुरुवार का चयन करना चाहिए जिस, दिन पुष्य नक्षत्र हो। तत्काल में ऐसे संभव न हो तो आप किसी भी मास के शुक्ल पक्ष के पहले गुरुवार से यह व्रत शुरू कर सकते हैं ध्यान रहे कि पौष मास से इसका आरंभ न करें। जिस तरह से 16 सोमवार का व्रत रखा जाता हैं ठीक उसी तरह 16 गुरुवार का व्रत रखें। गुरुवार को केले के पौधे की पूजा करें संभव हो तो व्रत के समय पीले वस्त्र धारण करें पीले फल और पुष्प भगवान विष्णु और गुरु बृहस्पति देव को अर्पित करें। जो लोग गुरुवार का व्रत रखते हैं उनके लिए उस दिन केला खाना वर्जित होता हैं केले के पौधे में श्री विष्णु का वास माना गया है इसलिए केला नहीं खाया जाता हैं। 

Thursday fast know rules importance dos and donts

आप गुरुवार के दिन चने की दाल, केला, पीला वस्त्र, गुड़ आदि गरीबों को दान कर सकते हैं पूजा में श्री विष्णु को चने की दाल, केला, गुड़, बेसन से बनी मिठाई आदि अर्पित कर सकते हैं गुरुवारको उड़द की दाल और चावल के सेवन से परहेज करना चाहिए। गुरुवार के दिन दाढ़ी बनवाने, नाखून काटने और बाल कटवाने, वस्त्र धोने, सिर धोने आदि की मनाही होती हैं। 

Thursday fast know rules importance dos and donts

Share this story