×

अलवर : वारदात से पहले किराए के मकान में आकर रहते, दिनदहाड़े चोरी करते, ढाई साल में दो आरोपियों ने मिलकर 60 वारदाते की, 14 बाइक मिली

अलवर : वारदात से पहले किराए के मकान में आकर रहते, दिनदहाड़े चोरी करते, ढाई साल में दो आरोपियों ने मिलकर 60 वारदाते की, 14 बाइक मिली

अलवर पुलिस ने गुरुवार को कार्रवाई करते हुए बाइक चोर गिरोह के दो लोगों को गिरफ्तार किया है। इसके पास से 14 बाइक बरामद हुई है। एसपी तेजस्वनी गौतम ने बताया कि बाइक चोर अलवर शहर से दूर मकान किराए पर लेकर रहते हैं। वारदात से पहले यह किराए के मकान में जाकर रहते और दिनदाहड़े यह वारदात को अंजाम देते। चोरी की 50 से 60 हजार रुपए की बाइक को भरतपुर में 8 हजार रूपए में बेच देते। आरोपी हरिओम गुर्जर व राहुल जाटव के पास से 13 बाइक व एक स्कूटी बरामद की है। एसपी ने बताया कि 9 जून को परिवादी पुष्पेंद्र ने बाइक चोरी की रिपोर्ट दी थी
हरिओम गुर्जर के पास बाइक का लॉक तोड़ने क मास्टर कि मिली है। यह दोनों बाइक चोरी करने में शातिर है। पुलिस पूछताछ में बताया कि 2019 से अब तक दोनों मिलकर जयपुर, अलवर और भरतपुर में 60 वारदातें कर चुके हैं। इसके बाद पुलिस ने उनको रिमांड पर ले लिया है।आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि यह बाइक सीकरी के वकील मेव पुत्र जल्लू खां को बेचते हैं। पुलिस ने सीकरी में वकील मेव के ठिकानों पर दबिश दी।
एसपी ने बताया कि बाइक चोर राहुल जाटव ने बख्तल की चौकी के पास मकान किराए पर ले रखा था। वारदात करने से एक दिन पहले मुल्जिम हरिओम व उसके साथी यहां आकर रुक जाते। सुबह वारदात करने निकल जाते और भीड़भाड़ वाली जगह बैंक, ऑफिस व पार्क जैसी जगहों से मास्टर कि से बाइक का लॉक तोड़ चोरी कर लाते थे। चोरी के वाहन को लेकर गांवों के रास्तों से निकल जाते और सीकरी में जाकर वकील मेव को बाइक 5 से 8 हजार रुपए में बेच देते।ं

Share this story