×

दुर्ग : 10 माह में 33681 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई; कोरोना काल से अब तक UP, महाराष्ट्र, गुजरात सहित 11 राज्यों में भेजी जा रही

दुर्ग  : 10 माह में 33681 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई; कोरोना काल से अब तक UP, महाराष्ट्र, गुजरात सहित 11 राज्यों में भेजी जा रही

छत्तीसगढ़ के भिलाई स्टील प्लांट (BSP) ने कोरोना के संकटकाल में प्राणवायु देकर देशभर में लाखों लोगों की जान बचाई। संक्रमण काल के दौरान जब हर ओर ऑक्सीजन को लेकर मारा-मारी मची थी। तब SAIL (स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया) और BSP ने मेडिकल क्षेत्र में ऑक्सीजन की आपूर्ति निर्बाध रुप से जारी रखी।
BSP ने अपने अस्पतालों के साथ-साथ देश-प्रदेश के अलग-अलग अस्पतालों को भी ऑक्सीजन सिलेंडर की सप्लाई की। इसमें जिला प्रशासन को दी गई मदद भी शामिल है। BSP ने बीते साल अगस्त से लेकर इस साल 15 जून तक 15 हजार 165 ऑक्सीजन सिलेंडर की सप्लाई कर चुका है।
इसमें BSP के मुख्य चिकित्सालय सेक्टर-9 को 10 हजार 417 ऑक्सीजन सिलेंडर, जिला प्रशासन दुर्ग को 2 हजार 295 सिलेंडर और मध्य प्रदेश को 2 हजार 453 सिलेंडर की सप्लाई की जा चुकी है।BSP का लोहा देशभर ने माना है। वहीं, कोरोना संकट में ऑक्सीजन उत्पादन करके लाखों लोगों के जीवन की रक्षा की है। वहीं तमिलनाडु के कोरोना मरीजों की सांसों को सहेज रहा है। 29 मई से 15 जून तक प्लांट द्वारा कुल 819 टन से अधिक LMO की सप्लाई मेडिकल सर्विस कार्पोरेशन को की गई है। BSP ने केंद्र सरकार द्वारा चलाये गई ऑक्सीजन एक्सप्रेस के माध्यम से भी ऑक्सीजन की सप्लाई की गई है।LMO कंटेनर से देश के अलग-अलग राज्यों में ऑक्सीजन की सप्लाई की जा रही है। रेल मार्ग से भी ऑक्सीजन एक्सप्रेस के जरिए देश के अन्य जगहों पर ऑक्सीजन पहुंचाई जा रही है। फिलहाल यह सिलसिला यूं ही आगे भी चल सकता है।

Share this story