×

नालंदा :साहस को सलाम:पटना एम्स की डाॅक्टर ने पहले खुद, फिर बड़े बेटे और अब छाेटे पर भी कराया काेवैक्सीन का ट्रायल

नालंदा :साहस को सलाम:पटना एम्स की डाॅक्टर ने पहले खुद, फिर बड़े बेटे और अब छाेटे पर भी कराया काेवैक्सीन का ट्रायल

एम्स के बर्न एंड प्लास्टिक सर्जरी विभाग की हेड डाॅ. वीणा सिंह ने दूसरे स्टेज में अपने सात साल के बेटे सम्यक पर भी गुरुवार काे काेवैक्सीन का ट्रायल कराया। इससे पहले डाॅ. वीणा ने 12 से 18 साल के बच्चाें पर पहले स्टेज के ट्रायल में 14 साल के बड़े बेटे सत्यम पर परीक्षण कराया था। पिछले साल जब वयस्काें पर काेवैक्सीन का ट्रायल चल रहा था उस दाैरान डाॅ. वीणा ने खुद पर ट्रायल कराया था। सम्यक पर ट्रायल के दाैरान एम्स के एमएस डाॅ. सीएम सिंह, सम्यक के पिता डाॅ. संताेष कुमार और मां डाॅ. वीणा भी माैजूद थे। डाॅ. संताेष एनएमसीएच में साइकेट्री विभाग में डाॅक्टर हैं।डाॅ. वीणा एम्स की पहली डाॅक्टर हैं, जिन्हाेंने दाे बेटाें पर काेवैक्सीन का ट्रायल कराया।

सभी बच्चे स्वस्थ

गुरुवार काे सम्यक समेत 6 से 12 साल के 7 बच्चाें पर ट्रायल हुआ। काेवैक्सीन की पहली डाेज लेने वाले बच्चाें काे ट्रायल करने वाली टीम ने करीब दाे घंटे तक आब्जर्वेशन में रखा। किसी भी बच्चे पर साइड इफेक्ट नहीं हुआ। दूसरे स्टेज में गुरुवार तक 9 बच्चाें पर ट्रायल हाे चुका है। इससे पहले दाे बच्चाें पर ट्रायल हआअा था। दूसरे स्टेज में यहां 43 बच्चाें की स्क्रीनिंग हाे चुकी है। एमएस डाॅ. सीएम सिंह ने कहा कि ट्रायल ठीक से चल रहा है। दूसरे स्टेज में जिन बच्चाें काे पहली डाेज पड़ी है, उन्हें चार सप्ताह के बाद दूसरी डाेज पड़ेगी। उन्हाेंने कहा कि पहले स्टेज में 12 से 18 साल के 27 बच्चाें पर पहली डाेज का परीक्षण हाे चुका है। सभी बच्चे स्वस्थ हैं।

Share this story