×

नालंदा : ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी:एयरक्राफ्ट से आसमान में लिख दिया-दवाई भी और कड़ाई भी, दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी..

नालंदा  : ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी:एयरक्राफ्ट से आसमान में लिख दिया-दवाई भी और कड़ाई भी, दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी..

एसीसीओ-46 कोर्स की समाप्ति पर कमीशन प्राप्त होने वाले जेंटलमैन कैडेट्स ने जमीन से लेकर आसमान तक अदम्य साहस व शौर्य का प्रदर्शन किया।पासिंग आउट परेड से पहले ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी में बुधवार की संध्या मल्टी एक्टिविटी डिस्पले कार्यक्रम का आयोजन हुआ।

ट्रेनिंग के दौरान प्राप्त युद्ध कौशल व जांबाजी करतबों को प्रस्तुत किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ओटीए कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल जीएवी रेड्‌डी (शौर्य चक्र विशिष्ट सेवा मेडल ) का स्वागत किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत आसमान में उड़ रहे माइक्रो लाइट एयरक्राफ्ट से पुष्प वर्षा के साथ हुई। फलाई पास्ट में मुख्य आकर्षण वर्तमान वैश्विक कोरोना महामारी से बचाव का दिया गया संदेश रहा। जिसमें एयर क्राफ्ट से 50 फीट का ‘दवाई भी और कड़ाई भी दो गज दूरी मास्क है जरूरी लिखा बैनर फहराया गया। मौके पर जेंटलमैन कैडेट्स, ओटीए में कार्यरत सैन्य कर्मियों के परिवार, अफसरों के परिवार भी शामिल थे। फिजिकल ट्रेनिंग डिस्प्ले, कैडेट्स का पिरामिड बनाना व अन्य का प्रदर्शन हुआ। मौजूद लोगों ने कैडेट्स के हैरतअंगेज कारनामें को मोबाइल में कैद किया।

आर्मी एडवेंचर नोडल सेंटर गया ने बनाया कीर्तिमान

विभिन्न राष्ट्रीय व सेना स्तर के अभियानों में एयर शो और आयोजन में भाग लेकर छह लिम्बका रिकॉर्ड धारक आर्मी एडवेंचर नोडल सेंटरगया ने फिर दो कीतिर्मान स्थापित किए। कर्नल लक्ष्मीकांत यादव, हवलदार हेमचंद्र जोशी द्वारा दो किर्तिमान स्थापित किया गया। इसमें जेन एयर माइक्रा लाइट के माध्यम से तीन ध्वज (राष्ट्रीय ध्वज, भारतीय सेना ध्वज व सेना सेवा कोर ध्वज) को 6* 6 फीट की सबसे बड़ी रचना 108 वर्ग फीट लहराया गया।

Share this story