×

Vaccine Wastage: झारखंड में हुई टीको की सर्वाधिक बर्बादी

Vaccine Wastage: झारखंड में हुई टीको की सर्वाधिक बर्बादी

मई के महीने में केरल और पश्चिम बंगाल में कोरोना वैक्सीन की बर्बादी नहीं हुई, साथ ही दोनों राज्यों में वैक्सीन की क्रमश: 1.10 लाख और 1.61 लाख खुराक बचाई जा चुकी है. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, झारखंड में सबसे अधिक 33.95 प्रतिशत एंटी-कोविड टीकों की बर्बादी दर्ज की गई।Effective Vaccine Management (EVM)

आंकड़ों के अनुसार, केरल में टीके की बर्बादी का आंकड़ा 6.37 प्रतिशत दर्ज किया गया, जबकि पश्चिम बंगाल में -5.48 प्रतिशत दर्ज किया गया। वैक्सीन के माइनस (-) में होने का मतलब वैक्सीन की प्रत्येक शीशी में मौजूद अतिरिक्त खुराक का उपयोग करना भी है। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ में 15.79 फीसदी वैक्सीन और मध्य प्रदेश में 7.35 फीसदी वैक्सीन बर्बाद हो गई. पंजाब, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र में क्रमश: 7.08 फीसदी, 3.95 फीसदी, 3.91 फीसदी, 3.78 फीसदी और 3.63 फीसदी और 3.59 फीसदी वैक्सीन बर्बाद हो गई.With 12.4% and 10%, Tamil Nadu and Hariyana top vaccine ...

भारत में 45 साल से ऊपर के 38 फीसदी लोगों को 7 जून तक वैक्सीन की पहली खुराक दी गई. त्रिपुरा में यह आंकड़ा 92 फीसदी, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में 65-65 फीसदी, गुजरात में 53 फीसदी, गुजरात में 51 फीसदी था. केरल और दिल्ली में 49 प्रतिशत। तमिलनाडु में 19 प्रतिशत, झारखंड और उत्तर प्रदेश में 24-24 प्रतिशत और बिहार में 25 प्रतिशत दर्ज किया गया।COVID-19 vaccine wastage will be monitored: Centre to ...

Share this story