×

भारत का पहला मोबाइल सीएनजी युनिट शुरू हुआ, जाने की अब कैसे होगी डिलीवरी

भारत का पहला मोबाइल सीएनजी युनिट शुरू हुआ, जाने की अब कैसे होगी डिलीवरी

केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भारत के पहले मोबाइल सीएनजी युनिट का उद्घाटन किया है. इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड और महानगर गैस ने टाइप IV CNG कम्पोजिट सिलेंडर के साथ दिल्ली और मुंबई में यह सेवा शुरू की है. सरकार के अनुसार ये मोबाइल रीफिल युनिट (एमआरयू) उन क्षेत्रों में सीएनजी की पहुंचाने करने में मदद करेगी जो अभी तक पाइपलाइनों के माध्यम से नहीं जुड़े हैं या उन जगहों पर जहां पारंपरिक सीएनजी स्टेशन लगाने के लिए भूमि की कमी है.भारत का पहला मोबाइल सीएनजी युनिट शुरू हुआ, जाने की अब कैसे होगी डिलीवरी

सरकार का देश भर में विभिन्न स्थानों पर ऐसी और इकाइयों को तैनात करने का लक्ष्य है.युनिट बिना किसी अतिरिक्त लागत के सीएनजी की चौबीसों घंटे और दरवाजे पर डिलीवरी सुनिश्चित करेंगे. यह 1,500 किलोग्राम तक सीएनजी रख सकते हैं और प्रति दिन 150 से 200 वाहन भर सकते हैं.डॉ प्रधान ने कहा, “हम ऊर्जा की बिक्री में नई सोच ला रहे हैं और इसे मोबाइल बना कर दरवाज़ो पर पहुंचा रहे हैं. उन्होंने विभिन्न स्थानों पर ऐसे युनिट्स की तैनाती के माध्यम से ईंधन उपलब्धता बढ़ाने के लिए इसी तरह के और युनिट को चालू करने पर बल दिया. ये युनिट मॉल और कार्यालयों के साथ-साथ अन्य स्थानों पर भी सीएनजी उपलब्ध कराने में मदद करेंगे.भारत का पहला मोबाइल सीएनजी युनिट शुरू हुआ, जाने की अब कैसे होगी डिलीवरी देश भर में इन मोबाइल इकाइयों के साथ 201 सीएनजी स्टेशनों का भी उद्घाटन किया गया.मंत्री ने इस बात पर भी जोर दिया कि सरकार का उद्देश्य ऊर्जा रिटेलर की ओर बढ़ना है जहां हाइड्रोजन, डीज़ल, पेट्रोल, सीएनजी / सीबीजी, एलएनजी या ईवी बैटरी स्वैपिंग सुविधाएं एक ही जगह पर उपलब्ध होंगी. उन्होंने कहा कि स्वच्छ वातावरण के लिए डीज़ल और पेट्रोल वाहनों को सीएनजी/एलएनजी में बदलने की आवश्यकता है.

Share this story